अपने सुबह की ऐसे करें शुरुआत, ख़ास रहेगा दिन

0
Spread the love

आप प्रत्येक सुबह की शुरुआत कैसे करते हैं, इसका आपके शेष दिन पर सकारात्मक या नकारात्मक बहुत बड़ा प्रभाव पड़ता है। एक स्वस्थ सुबह की दिनचर्या का अभ्यास करके, आप दिन को बेहतर बना सकते है, तनाव कम कर सकते हैं, खुशी बढ़ा सकते हैं और बहुत कुछ उपयोगी कर सकते हैं।

बहुत से लोग हर दिन जिम्मेदारियों से बंधे होते है जिस के लिए वह सवेरे जागते है । यदि आपके बच्चे या पालतू जानवर हैं, तो आपको उनकी देखभाल करने की आवश्यकता है। अधिकांश लोगों का सुबह का काम होता है, नाश्ता बनाने की जरूरत होती है, काम के लिए तैयार हो जाते हैं, इत्यादि। मैं यह सुझाव नहीं दे रहा हूं कि आप अपनी जिम्मेदारियों से बचें। लेकिन सच्चाई यह है कि यदि आप स्वस्थ स्व-देखभाल दिनचर्या से शुरुआत करते हैं, तो आप हर सुबह अपने लिए भी समय निकाले.

अगर आप अपने दिनचर्या में कुछ आदते को जोड़ेंगे तो आपकी दिन बेहतर हो सकती है.

सुबह स्वयं की देखभाल के लिए पर्याप्त समय देने के लिए, अपनी अलार्म घड़ी को थोड़ा पहले सेट करें और पहले भी सो जाएं।
सुबह स्वयं की देखभाल के लिए पर्याप्त समय देने के लिए, अपनी अलार्म घड़ी को थोड़ा पहले सेट करें और पहले ही सो जाएं।
अपने दिन को ठीक करने के लिए पहला कदम यह सुनिश्चित करने के लिए अपने सोने के समय को सही तय करना है कि आपके पास अपने और अपनी जिम्मेदारियों के लिए पर्याप्त समय है।
शोध से पता चला है कि सबसे पहले एक गिलास पानी के साथ रिहाइड्रेटिंग करने से आपका मेटाबॉलिज्म 30% तक बढ़ सकता है।


क्योंकि हम सोते समय अपनी सांस और पसीने के माध्यम से पानी खो देते हैं, हम आमतौर पर प्यासे उठते हैं। यह देखते हुए कि वयस्क मानव शरीर में 60% तक पानी होता है, अच्छे स्वास्थ्य के लिए जलयोजन आवश्यक है। दरअसल सोने की वजह से शरीर को रात भर पानी नहीं मिलता है ऐसे में बॉडी में dehydration की गुंजाईश बढ़ जाती है इसलिए सुबह उठ कर 2 ग्लास पानी ज़रूर पिए. फ्रेश होनें के बाद ठन्डे पानी से अपने चेहरे को धोए और हो सके तो ठंडी पानी का सेक भी लें. इससे आप के चेहरे को आराम मिलेगी और साथ ही साथ आपकी त्वचा खिल उठेगी.

उस के बाद 15 मिनट का meditation आप के शरीर व दिमाग को सही तरीके से संचलित करती है. Meditation अपने दिमाग को ध्यान केंद्रित करने और अपने विचारों को पुनर्निर्देशित करने के लिए प्रशिक्षित करने की प्रक्रिया में मदद करता है। ध्यान की लोकप्रियता बढ़ रही है क्योंकि अधिक से अधिक लोग इसके कई स्वास्थ्य लाभों से परिचित हो रहें है.
Meditation के बाद योगा या व्ययाम ज़रूरत करें. योगा और व्ययाम के फायदे जितने गिने कम है. योग स्वास्थ्य समस्याओं को ठीक करने और रोकने में बहुत सारे लाभ प्रदान करता है। आज हम सभी जिन मुख्य स्वास्थ्य चिंताओं का सामना कर रहे हैं उनमें से एक “तनाव” है। शोध अध्ययनों से पता चला है कि सुबह योग आपके तनाव हार्मोन को कम करने और आपकी उत्पादकता में सुधार करने में मदद कर सकता है। सुबह उठ कर स्ट्रेचिंग, सूर्य नमस्कार, शशांकभूजगास्म, सेतुः आसन जैसे योग अभ्यास करें. अभ्यास करने के बाद आप डेटॉक्स ड्रिंक, लेमन टी, ग्रीन टी पिए.

उस के बाद स्नान करें. रात में लम्बे समय से सोने और योगा, व्ययाम करने से पसीना चलता है जिस के वजह से बदबू और बैक्टीरिया फैलने का खतरा रहता है. इसलिए सिग्रह स्नान करें. स्नान करने के बाद आप नास्ता कर सकते है. नास्ता की शुरुआत ताजे फलों से करें. मौसम के हिसाब से जों भी फल बाजार में उपलब्ध हो उनला सेवन करें. उस के बाद नास्ता कर के अपने दिन की शुरुआत करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *